...
वयस्कों में कब्ज

कब्ज एक आम समस्या है जिसमें मल त्याग करना अधिक मुश्किल हो जाता है। आपका मल इस प्रकार के हो सकते हैं:

  • बहुत कठिन
  • बहुत छोटा
  • मल का बाहर निकलना अति मुश्किल
  • सप्ताह में 3 बार से कम बार मल त्याग करना
  • निम्नलिखित कब्ज के कुछ कारण हो सकते हैं:

    • कुछ दवाओं के साइड इफेक्ट
    • अल्प खुराक
    • पाचन तंत्र के रोग 

यह लक्षण, अधिक गंभीर समस्या का संकेत दे सकते हैं:

  • मल त्यागने के बाद टॉयलेट में या टॉयलेट पेपर पर खून / रक्त दिखना 
  • बुखार
  • वजन घटना
  • कमज़ोर महसूस करना 
  • हाँ। इन उपचारों के प्रयास से शुरुआत करें:

    • ऐसे खाद्य पदार्थ खाएं जिनमें बहुत अधिक फाइबर (Fiber) हो। अच्छे विकल्प — फल, सब्जियां, प्रून जूस, और अनाज (तालिका) हैं।
    • पानी और अन्य तरल पदार्थों का खूब सेवन करें।
    • जब आपको बाथरूम जाने की आवश्यकता महसूस हो, तो बाथरूम अवश्य जाएँ। इसे कभी भी रोकके न रखिए।
    • जुलाब होने की दवाई लें। यह दवाएं हैं जो मल त्याग को आसान बनाने में मदद करती हैं। कुछ गोलियां हैं जिन्हें आप निगलते हैं। अन्य मलाशय में जाते हैं। इन्हें “सपोसिटरीज़” (Suppositories) कहा जाता है।

अपने चिकित्सक को देखें यदि:

  • आपके लक्षण नए हैं या आपके लिए सामान्य नहीं हैं
  • कब्ज की समस्या आती है, और चली जाती है, लेकिन 3 सप्ताह से अधिक समय तक रहती है
  • आप बहुत दर्द में हैं
  • आपके अन्य लक्षण भी हैं जो आपको चिंतात करते हैं (उदाहरण के लिए, रक्तस्राव, कमजोरी, वजन कम करना, या बुखार)
  • आपके परिवार के अन्य लोगों को कोलोरेक्टल कैंसर (colorectal cancer) या सूजन आंत्र रोग (inflammatory bowel disease) है

आपके डॉक्टर तय करंगे कि आपकी उम्र, अन्य लक्षण और व्यक्तिगत स्थिति के आधार पर आपको कौन से परीक्षण करने चाहिए। बहुत सारे परीक्षण हैं, लेकिन ऐसा भी हो सकते हाई के आपको किसी भी परीक्षण की आवश्यकता ना हो। 

सबसे आम परीक्षणों जिनका उपयोग डॉक्टर कब्ज के कारण का पता लगाने के लिए करते हैं:

  • रेक्टल परीक्षा (Rectal Exam) – आपके डॉक्टर आपके गुदा के बाहर देखेंगे। वह आपके गुदा के छेद के अंदर महसूस करने के लिए एक उंगली का उपयोग कर सकते हैं।
  • एक्स-रे (X-ray) या एमआरआई (MRI) – ये आपके शरीर के अंदर की छबीयां बनाते हैं।
  • मैनोमेट्री अध्ययन (Manometry Studies) – मैनोमेट्री के परीक्षण में, आपके डॉक्टर मलाशय में विभिन्न जगहों पर मलाशय के अंदर के दबाव को जाँचते हैं। इससे डॉक्टर को यह भी पता लगता है कि क्या आपके मल त्याग को नियंत्रित करने वाली मांसपेशियां सही काम कर रही हैं या नहीं। मैनोमेट्री परीक्षण यह भी दर्शाता है कि क्या व्यक्ति का मलाशय सामान्य छूना या दबाव महसूस कर सकता है या नहीं।

यह इस बात पर निर्भर करता है कि आपके कब्ज का मूल कारण क्या है। सबसे पहले, आपको अधिक फाइबर (fiber) खाने और अधिक पानी पीने की कोशिश करमेन की सलाह देंगे आपके डॉक्टर। यदि इससे कब्ज में कोई मदद या राहत नहीं मिलती, तो आपके डॉक्टर निनमलिखित सुझाव दे सकते हैं:

  • खाने वाली दवाइयाँ (जो आप निगलते हैं) या फिर अपने मलाशय में डालने वाली गोलियाँ
  • आप कोई अन्य स्वास्थ्य स्थितियों के लिए दवाइयाँ ले रहे हैं, उन्हें बदल के देखना
  • “एनीमा” (Enema) नामक एक उपचार – इस एनीमा में डॉक्टर आपके मलाशय में पानी की धारा दलते हैं। इसके बाद, डॉक्टर कोई एक पतले उपकरण का उपयोग करके आपके मल (जो अभी भी आपके अंदर हैं) को तोड़ने की प्रक्रिया करते हैं। 

आप भी स्वतः घर पर एनीमा उपचार लेने में सक्षम हो सकते हैं। एनीमा सिर्फ पानी हो सकता है, या कब्ज के लिए दवाई उस पानी में मिश्रित हो सकती है।

  • बायोफीडबैक (Biofeedback) – इस तकनीक में आपको अपनी मांसपेशियों को विश्रामित करना सिखाती है ताकि आप मल त्याग को आराम से धक्का दे सकें और बाहर निकाल सकें।

आप को फिर से कब्ज होने की संभावनाओं को कम कर सकते हैं:

  • ऐसा आहार लेना जो फाइबर (Fiber) से भरा हो (तालिका)
  • दिन के दौरान पानी और अन्य तरल पदार्थ पीना
  • प्रतिदिन नियमित समय पर बाथरूम जाना
Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp
Email
Skype
Telegram
Dr. Harsh J Shah Seraphinite AcceleratorOptimized by Seraphinite Accelerator
Turns on site high speed to be attractive for people and search engines.