...
GI Bleed Specialist 1

“जीआई” या गैस्ट्रो-इंटेस्टाइनल (gastrointestinal) का अर्थ है “जठरांत्र” या “जीआई प्रणाली” (या “जीआई पथ”) आपके शरीर में सभी अंगों के लिए यह चिकित्सा शब्द है जो भोजन (आकृति) को संसाधित करता है। जीआई प्रणाली में शामिल होते हैं:

  • एसोफैगस (Esophagus) (नली जो आपके मुंह को आपके पेट से जोड़ती है)
  • पेट
  • छोटी आंत (छोटी बावल के रूप में भी जानी जाती है)
  • बड़ी आंत (जिसे बृहदान्त्र या बड़ी आंत के रूप में भी जाना जाता है)

जीआई ब्लीड तब ​​होता है जब इनमें से कोई भी अंग से खून बहने लगता है। अक्सर आपको पता नहीं लगता है कि आपको रक्तस्राव हो रहा है, क्योंकि यह आपके शरीर के अंदर हो रहा है। लेकिन कभी-कभी संकेत मिलते हैं कि यह हो रहा है।

जीआई ब्लीड्स के 2 सामान्य प्रकार हैं। “अपर जीआई ब्लीड्स” जो अन्नप्रणाली, पेट, और छोटी आंत के पहले भाग को प्रभावित करता है। “लोअर जीआई ब्लीड्स” जो कोलन को प्रभावित करता है। रक्तस्राव छोटी आंत के बीच में भी हो सकता है, लेकिन यह बहुत कम क़िस्सों में होता है। इसे कभी-कभी “मध्य-जीआई रक्तस्राव” भी कहा जाता है।

आपको ऊपरी या निचले जीआई ब्लीड हैं, इस पर निर्भर होता है कि कौनसे अलग लक्षण हैं। कुछ लोगों में कोई लक्षण होते ही नहीं हैं।

जब उन्हें रक्तस्राव होता है, या डॉक्टर या नर्स उन पर कोई गुदा परीक्षण करते हैं, या फिर रक्त परीक्षण से पता चलता है कि उन्हें एनीमिया है, तब उन्हें पता चलता है कि जीआई ब्लीड हुआ है। [एनीमिया तब होता है जब किसी व्यक्ति के रक्त में बहुत कम लाल रक्त कोशिकाएं होती हैं।]

अपर जीआई ब्लीड के लक्षणों इस प्रकार हो सकते हैं:

  • खून की उल्टी या ऐसा कुछ जो पिसी हुई कॉफी के जैसा दिखता है
  • डायरिया या मल त्याग जो काले टार की तरह दिखते हैं (यह लोअर जीआई ब्लीड्स के साथ भी हो सकता है, लेकिन यह उसमें कम तौर पे दिखता है)

निम्न लोअर जीआई ब्लीड के लक्षण हो सकते हैं:

बोवेल मूवमेंट (मल त्याग) जो खूनी दिखते हैं (यह अपर जीआई ब्लीड्स के साथ भी हो सकता है, लेकिन यह उसमें कम कम तौर पे दिखता है)

निम्न लक्षण जो अपर या लोअर जीआई ब्लीड, दोनो के साथ हो सकते हैं:

  • कमजोर, हल्का मितली जैसा महसूस होना, या चक्कर आना (विशेषकर यदि आपका बहुत खून बह जाता है)
  • तेज़ धड़कनो से चलता हृदय (यदि आप बहुत खून खो देते हैं)
  • ऐंठन या पेट दर्द
  • दस्त
  • पीली त्वचा

अपने चिकित्सक को तुरंत देखें यदि आपको:

  • उल्टी रक्त या कुछ ऐसा जो पिसी हुई कॉफी के जैसा दिखता है
  • मल त्याग करें जो टार की तरह दिखता है या उसमें खून होता है
  • कमज़ोर, हल्का मितली जैसा महसूस होना, या चक्कर जैसा महसूस करना
  • तेज़ धड़कनो से चलता हृदय
  • पेट में तेज दर्द हो रहा हो
  • सामान्य की तुलना में अधिक फीका दिखना

जीआई ब्लीड के सबसे आम कारण इस्स प्रकार हो सकते हैं:

  • पेट या छोटी आंतों में अल्सर (जीआई पथ के अस्तर पर खरोंच जैसे अल्सर होते हैं)
  • घुटकी में सूजन वाली नसें जिसे “वैरायसिस” कहा जाता है
  • असामान्य रक्त वाहिकाओं को “धमनीविषयक विकृतियां” (arteriovenous malformations) (या संक्षेप में AVMs) कहा जाता है
  • डायवर्टीकुलोसिस (Diverticulosis) (एक ऐसी स्थिति जिसमें पेट के अस्तर में छोटे पाउच बनते हैं)
  • क्रोहन रोग (Crohn Disease) या अल्सरेटिव कोलाइटिस (ulcerative colitis) (ऐसी स्थितियां जो आंत में अस्तर में पर खरोंच जैसे निर्माण कर सकती हैं)
  • बवासीर, जो मलाशय (बृहदान्त्र के निचले हिस्से) में नसों में सूजन, या गुदा के चारों ओर चिरें होते हैं
  • कैंसर (शायद ही कभी)

हाँ यदि आपके डॉक्टर या नर्स को संदेह है कि आपको जीआई ब्लीड हुआ है, तो वह इनमें से 1 या अधिक परीक्षणों का आदेश देंगे:

  • रक्त परीक्षण, यह देखने कि:
  • क्या आपके शरीर में पर्याप्त लाल रक्त कोशिकाएं हैं (कोशिकाएं जो ऑक्सीजन ले जाती हैं)
  • क्या आपका रक्त सामान्य रूप से थक्का बना रहा है
  • आपका लिवर सामान्य रूप से काम कर रहा है या नहीं
  • अपर एंडोस्कोपी (upper endoscopy)- इस परीक्षण के लिए, एक डॉक्टर आपको नींद और आराम करने के लिए दवा देता है। फिर वह आपके मुंह में, और आपके गले के नीचे तक एंडोस्कोप नामक एक पतली ट्यूब डालते हैं। ट्यूब में अंत में एक प्रकाश वाला कैमरा होता है, जो आपके जीआई ट्रैक्ट की छवियों को टीवी स्क्रीन पर भेजता है। यदि डॉक्टर रक्तस्राव वाले किसी भी निशानों को देखते हैं, तो वह रक्तस्राव को रोकने के लिए एंडोस्कोप के माध्यम से जाने वाले उपकरणों का उपयोग कर सकते हैं।
  • कोलोनोस्कोपी (colonoscopy)- यह परीक्षण अपर एंडोस्कोपी के समान ही होता है, लेकिन इसमें गुदा (आकृति) से नली को गुजरना होता है।
  • इमेजिंग परीक्षण जिसमें रक्त में डाई या हल्के रेडियोधर्मी रसायन डालना होता है जिस्से डॉक्टर यह पता लगा सकें कि रक्त कहाँ जा रहा है।
  • कैप्सूल एंडोस्कोपी (capsule endoscopy) – यह परीक्षण एक विटामिन की गोली के आकार में एक छोटा कैमरा का उपयोग करता है। आप गोली-आकर कैमरा निगलते हैं, और यह एक रिकॉर्डिंग डिवाइस – जिसे आप 8 घंटे के लिए बेल्ट पर पहनते हैं – उसमें तस्वीरें भेजता है। आपके डॉक्टर फिर तस्वीरों को देखते हैं। यह परीक्षण डॉक्टरों को छोटी आंत (क्योंकि यह बहुत लंबा होता है) को देखने देता है, जो अपर एंडोस्कोपी या कोलोनोस्कोपी के में देखना मुश्किल होता है। परीक्षण के बाद, कैमरा आपके मल त्याग के साथ शरीर से निकल जाएगा। ज्यादातर लोग कभी इसे बाहर आते नहीं देख सकते।

आप कितना खून खो चुके हैं, और आपके रक्तस्राव के कारण क्या हो रहें हैं, इसके आधार पर, आपको इनमें से 1 या अधिक उपचार करवाने हो सकते हैं:

  • एक मास्क या एक ट्यूब के माध्यम से ऑक्सीजन लेना (जो आपकी नाक के नीचे बीठाते हैं)
  • आपकी नसों में रक्त या तरल पदार्थ (आपके द्वारा खोए रक्त को पहले की क्षमता में पुनः लौटाना या रक्तस्राव विकार का इलाज करने के लिए)
  • पेट के एसिड को कम करने या किसी रक्तस्राव विकार का इलाज करने के लिए दवाएं
  • दवाएं आपके पेट को साफ करके और खाली करने में मदद करती हैं (जिस्से डॉक्टर स्पष्ट देख सकें कि अंदर क्या हो रहा है)
  • एंटीबायोटिक्स
  • एक छोटी ट्यूब जो आपकी नाक में से आपके गले के अंदर जाती है, ताकि डॉक्टर आपके पेट को धो कर साफ़ कर सकें

इस बात पर निर्भर करता है कि ब्लीड कहां हो रहा है, आपको अपर एंडोस्कोपी भी, या कोलोनोस्कोपी भी या दोनों भी करवानी हो सकती हैं। इससे डॉक्टरों को रक्तस्राव वाले स्थान या जगहों को खोजने में मदद मिल सकती है। इसके अलावा, डॉक्टर कभी-कभी अपर एंडोस्कोप या कोलोनोस्कोप का उपयोग करके रक्त वाहिकाओं को बंद करने और रक्तस्राव को रोकने की विधि भी कर सकते हैं।

रक्तस्राव बंद हो जाने के बाद, आपके डॉक्टर या नर्स शायद यह जानना चाहेंगे के कि आपको रक्तस्राव पहली बार शुरू हाई क्यों हुआ था। यदि आपको अल्सर या कोई अन्य स्थिति है जो रक्तस्राव का कारण बन सकती है, तो डॉक्टर या नर्स यह सुनिश्चित करना चाहेंगे कि उन समस्याओं का इलाज भी किया जाए।

आपको जीआई ब्लीड होने की संभावना कम करने के लिए:

  • बार-बार NSAIDs नामक दवाइयाँ लेना बंध करें, जब तक कि आपका डॉक्टर आपको लेने की अनुमति न दें। ये दवाएं अल्सर का कारण बन सकती हैं। NSAIDs के उदाहरणों में एस्पिरिन (aspirin), इबुप्रोफेन , (ibuprofen) (नमूना ब्रांड नाम: एडविल – Advil, मोट्रिन – Motrin) और नेप्रोक्सन (naproxen) (नमूना ब्रांड नाम: एलेव – Aleve, नेप्रोसिन – Naprosyn) शामिल हैं। यदि आपको नियमित रूप से इन दवाओं को लेने की आवश्यकता है, तो आपके डॉक्टर आपको रक्तस्राव के जोखिम को कम करने के लिए कोई और दवाई दे सकते हैं।
  • अगर पेट के अल्सर के लिए आपका इलाज किया जा रहा है
  • अगर आपको सिर्रहोसिस (cirrhosis) है तो बीटा ब्लॉकर्स नामक दवाएं लेना और आपके डॉक्टर उन्हें निर्धारित किया है।
Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp
Email
Skype
Telegram
Dr. Harsh J Shah Seraphinite AcceleratorOptimized by Seraphinite Accelerator
Turns on site high speed to be attractive for people and search engines.