...
साल्मोनेला संक्रमण के टॉप डॉक्टर

साल्मोनेला संक्रमण एक बीमारी है जिस्से मतली, उल्टी, और दस्त हो सकती है। “साल्मोनेला” एक तरह का बैक्टीरिया है। लोगों को अक्सर उन खाद्य पदार्थों को खाने या छूने से संक्रमण होता है जिनमें यह बैक्टीरिया होते हैं। यह अक्सर चिकन या अंडे, या डेयरी उत्पाद होते हैं। आप कुछ जानवरों जैसे कि — मुर्गियों, बत्तखों, और कछुओं को छूने से भी संक्रमण प्राप्त कर सकते हैं।

  • आमतौर पर आपको लक्षण, बैक्टीरिया से संक्रमीत भोजन खाने के कुछ दिनों के भीतर (या किसी जानवर को छूने) पर होते हैं। लक्षणों निम्न प्रकार के होते हैं:

    • उलटी अथवा मितली होना 
    • बुखार – यह आमतौर पर 2 या 3 दिनों तक रहता है
    • दस्त जो पानी या खूनी हो सकते हैं – आमतौर पर, यह 4 से 10 दिनों तक हो सकता है। यदि, आपको 10 दिनों से अधिक समय से ऐसे दस्त हो रहे हैं, तो कोई और स्थिति के कारण आपके लक्षणों पैदा हो सकते हैं।
    • पेट दर्द या ऐंठन होना 

    आपकी शरीर या उसकी सिस्टम — कितने बैक्टीरिया से संक्रमीत हुआ हैं — इसके आधार पर लक्षण कम या ज्यादा गंभीर हो सकते हैं। उदाहरण के लिए, एक व्यक्ति जो बैक्टीरिया वाले अधिक भोजन को ग्रहण करता है, उसको संभवतः बदतर लक्षण होंगे, और लंबे समय तक बीमार रहेगा। जिस व्यक्ति ने ऐसा बैक्टीरिया वाला भोजन, केवल थोड़ा सा खाया होगा, उसे कम तक्लीफ़ वाले लक्षण मेह्सूस होंगे। 

    आमतौर पर, साल्मोनेला का संक्रमण इतना गंभीर नहीं होता है, और अधिकांश लोग कुछ दिनों से एक सप्ताह के भीतर बेहतर हो ही जाते हैं। लेकिन कुछ मामलों में, बैक्टीरिया रक्तप्रवाह में भी आ सकता है। यदि ऐसा होता है, तो कुछ परिस्थिति वाले लोग बहुत बीमार हो सकते हैं। इनमें वे लोग शामिल हैं जिनकी प्रतिरक्षा प्रणाली सामान्य से कमजोर है, या जिन्हें कैंसर या कोई अन्य गंभीर बीमारी है।

अपने चिकित्सक को तुरंत दिखाएँ, यदि आपको:

  • पेट में तेज दर्द हो
  • खा या पी नहीं सकते
  • उल्टी रक्त या आपके मल त्याग में रक्त है
  • 2 या 3 दिनों के लिए 100.4 ° F (38 ° C) से अधिक बुखार हो
  • हां, लेकिन सभी लोगों को जांचने की जरूरत नहीं होती है। यदि आपके लक्षण गंभीर नहीं हैं, तो आपको शायद परीक्षण की आवश्यकता नहीं होगी। किंतु, यदि आपको साल्मोनेला संक्रमण से बहुत बीमार होने का खतरा है — तो आपके डॉक्टर गंभीर लक्षण न होने पर भी कुछ परीक्षण कर सकते हैं। अधिक जोखिम वाले लोगों में — एक कमजोर प्रतिरक्षा प्रणाली, 1 वर्ष से कम आयु के बच्चे, और 50 वर्ष से अधिक आयु के वयस्क शामिल हैं।

    यदि आपके डॉक्टर परीक्षण करने का फैसला करते हैं, तो इसमें साल्मोनेला बैक्टीरिया की जांच के लिए आपके मल त्याग  के नमूना लेना पड़ सकता है। लेकिन परीक्षा के परिणाम आने में 2 या 3 दिन लग सकते हैं। यदि आपको साल्मोनेला संक्रमण से बहुत बीमार होने का खतरा है, तो उपचार शुरू करने से पहले आपके डॉक्टर, आपके परीक्षण के परिणामों की प्रतीक्षा कदाचित न भी करने का निर्णय ले सकते हैं।

आमतौर पर, यह अपने आप ही चला जाता है, इसलिए अधिकांश लोगों को उपचार की आवश्यकता नहीं होती है। लेकिन अगर आप बहुत बीमार हो जाते हैं, तो अस्पताल में आपका इलाज किया जा सकता है। डॉक्टर एक पतली ट्यूब (जिसे “IV” कहा जाता है) के माध्यम से एंटीबायोटिक दे सकते हैं — जो आपके एक नस में डाली जाती है। यदि आपको साल्मोनेला संक्रमण से बहुत बीमार होने का खतरा है, तो आपका डॉक्टर एंटीबायोटिक गोलियां भी लिख सकते हैं।

यदि आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली सामान्य है, तो आपको संभवतः कुछ दिनों के लिए केवल एंटीबायोटिक लेने की आवश्यकता है। लेकिन, यदि आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली कमजोर है या इस संक्रमण से जटिलताएं हैं, तो आपको 2 सप्ताह या उससे अधिक समय तक उनकी आवश्यकता हो सकती है। एंटीबायोटिक्स संक्रमण से छुटकारा पाने में मदद करते हैं, और इसे वापस आने से रोकते हैं।

हाँ। आप ऐसा कर सकते हैं:

  • पानी, नमक, और चीनी वाले तरल पदार्थों का अधिक सेवन करें – यदि आपके लक्षण हल्के हैं, तो आप रस, स्वाद वाले सोडा, या सूप शोरबा के साथ मिश्रित पानी भी ले सकते हैं। यह आपके शरीर के तरल पदार्थों की अछत को पूर्ण करने में मदद करते हैं। जब आपको उलटी या दस्त होते हैं, तब आपके शरीर बहुत तेज़ी से पानी खो देता है। 
  • छोटी मात्रा से शुरू करके, आप जो खा सकते हैं, खाएं। उनमें बहुत अधिक वसा (यनी के चरबी) वाले खाद्य पदार्थ आपको बदतर महसूस करवा सकते हैं।
  • अगर आपको थकान महसूस हो तो तुरंत आराम करें।

हाँ। आप संक्रमण के होने या फैलने की संभावना को कम कर सकते हैं:

  • डायपर बदलने, बाथरूम जाने, अपनी नाक बहाने, जानवरों को छूने, या कचरा बाहर निकालने के बाद अपने हाथ अच्छे से घिस कर धोना।
  • अगर आप बीमार हैं तो काम या स्कूल न जाएँ और घर पर रहें।
  • खाद्य सुरक्षा पर ध्यान देना। युक्तियों में शामिल हैं:
  •  बिना उबला हुआ दूध न पिएं, और न ही इससे बने खाद्य पदार्थ खाएं
  •  फल और सब्जियों को खाने से पहले अच्छी तरह धो लें
  •  फ्रिज के ठंडे हिस्से को 40°F (4.4°C) और फ्रीजर को 0°F (-18°C) से कम तापमान पे रखें।
  • मांस और समुद्री भोजन को अच्छी तरह से पकने दें
  • अंडे को तब तक पकाएं जब तक कि जर्दी फर्म न हो
  • कच्चे भोजन को छूने के बाद हाथ, चाकू, और कटिंग बोर्ड धोएं

भोजन को सुरक्षित रूप से संभालने के अधिक सुझावों के लिए, तालिका देखें।

अगर आपको लगता है कि आपको साल्मोनेला संक्रमण हो सकता है, तो अपने डॉक्टर या दाई से बात करें। अधिकांश गर्भवती महिलाओं को उपचार की आवश्यकता नहीं होती है। लेकिन आपको इसकी आवश्यकता हो सकती है यदि आप बहुत बीमार हो जाती हैं, और अपनी नियत तारीख के करीब हैं।

Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp
Email
Skype
Telegram
Dr. Harsh J Shah Seraphinite AcceleratorOptimized by Seraphinite Accelerator
Turns on site high speed to be attractive for people and search engines.