...

हियाटल हर्निया

हाइटल हर्निया का इलाज

जब पेट का एक हिस्सा छाती क्षेत्र में ऊपर आ जाता है, तब डॉक्टर उसे हियाटल हर्निया कहते हैं। आम तौर पर, डायाफ्राम — जो एक मांसपेशियों की परत है जो पेट में अंगों से छाती में अंगों को अलग करती है। उसके नीचे ही पेट होता है। अन्नप्रणाली — वह ट्यूब जो मुंह से पेट तक भोजन पहुंचाती है — डायाफ्राम में एक छेद से गुजरती है। हियाटल हर्निया वाले लोगों में, पेट उस छेद के माध्यम से धक्का देकर ऊपर की ओर आ जाता है।

हियाटल हर्निया के 2 प्रकार होते हैं :

  • स्लाइडिंग हर्निया (Sliding Hernia) – जब पेट के ऊपरी भाग और अन्नप्रणाली के निचले हिस्से, डायाफ्राम के ऊपर वाले हिस्से में बेहद दबकर आ जाते हैं तब उसे स्लाइडिंग हर्निया कहते हैं। यह सबसे आम प्रकार का हियाटल हर्निया है।
  • पैराईसोफेजियल हर्निया (Paraesophageal Hernia) – जब पेट का शीर्ष डायाफ्राम के ऊपर के भाग में बेहद दबकर आ जाता है तब उसे पैराईसोफेजियल हर्निया कहते हैं। यह बहुत आम नहीं है, लेकिन यह बहुत गंभीर हो सकता है अगर पेट अपने आप पर दबकर मूड जाए। इससे पेट से रक्तस्राव या सांस लेने में तकलीफ भी हो सकती है।

आमतौर पर हियाटल हर्निया के कोई लक्षण पैदा नहीं होते हैं। हालांकि, कुछ मामलों में, हियाटल हर्निया के कारण पेट का एसिड, अन्नप्रणाली में रिसाव हो सकता है। इसे एसिड रिफ्लक्स (Acid Reflux) या गैस्ट्रोओसोफेगल रिफ्लक्स (gastroesophageal reflux) कहा जाता है। इसके कुछ लक्षणों निम्न प्रकार के हो सकते हैं:

  • सीने में जलन, जिसे हार्टबर्न (heartburn) के रूप में जाना जाता है
  • गले में जलन या गले में एसिड का स्वाद
  • पेट या सीने में दर्द
  • निगलने में परेशानी
  • कर्कश आवाज या गले में खराश
  • अस्पष्टीकृत खांसी

हां, लेकिन डॉक्टर आमतौर पर हियाटल हर्निया के लिए परीक्षण नहीं करते हैं। इसके बजाय, अधिकांश लोग जब अन्य लक्षणों के कारणों को खोजने के लिए परीक्षण करवाते हैं, तभी उन्हें पता चलता है कि उन्हें हियाटल हर्निया हुआ है। 

उदाहरण के लिए, जब कुछ लोगों एक्स-रे करवाया होता है, तब पता चलता है कि हियाटल हर्निया हुआ है। और कुछ लोगों के डॉक्टर उनके गले के अंदर एक छोटे कैमरे वाली ट्यूब डालते हैं (जिसे एंडोस्कोपी – endoscopy – कहा जाता है)  तब उनको पता चलता है कि हर्निया हुआ है।

जिन लोगों में हियाटल हर्निया के कारण कोई भी लक्षण मेशूस हो रहे हैं, वे अपने लक्षणों का इलाज करवा सकते हैं।

लक्षणों के उपचार में एसिड रिफ्लक्स (तालिका) के लिए उपयोग की जाने वाली दवाएं शामिल हैं। और पैराईसोफेजियल हर्निया वाले लोग, और स्लाइडिंग हर्निया वाले कुछ लोगों को सर्जरी की आवश्यकता होती है। इस सर्जरी के लिए, सर्जन पेट को वापस नीचे की खींचते हैं, और डायाफ्राम में छेद की मरम्मत करते हैं, ताकि पेट फिर से ऊपर न चढ़ जाएँ।

Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp
Email
Skype
Telegram
Dr. Harsh J Shah