...
पित्ताशय की थैली हटाने का इलाज

पित्ताशय की थैली एक छोटा, नाशपाती के आकार का अंग है जो आपके यकृत (आकृति) के नीचे पायी  जाती है। यह पित्त को संग्रहीत करता है, एक तरल पदार्थ जो यकृत में बनता है, और शरीर के वसा (चरबी) को तोड़ने में मदद करता है। जब आप ऐसा भोजन करते हैं जिसमें वसा होता है, तो पित्ताशय पित्त को एक नली में खाली कर देता है जिसे “पित्त नली” कहा जाता है। पित्त नली पाचन के साथ मदद करने के लिए पित्त को छोटी आंत में ले जाती है।

पित्ताशय की थैली हटाने की प्रक्रिया में पित्ताशय की थैली को हटाने के लिए सर्जरी (Surgery) की जाती है। इस सर्जरी को “कोलेसिस्टेक्टोमी” (cholecystectomy) भी कहा जाता है।

पित्ताशय को निकालने के 2 मुख्य तरीके हैं:

  • लेप्रोस्कोपिक सर्जरी (Laparoscopic Surgery)- इसका मतलब है कि सर्जन एक “लेप्रोस्कोप” का उपयोग करते हैं, एक लंबी, पतली ट्यूब जिससे शरीर के अंदर देखने के लिए ट्यूब के अंत में एक प्रकाश वाला एक छोटा कैमरा लगाया होता है। (लेप्रोस्कोप को कभी-कभी शॉर्ट के लिए “स्कोप” कहा जाता है)। इस प्रकार की सर्जरी में सर्जन कुछ छोटे चीरों लगाता है। फिर वह चीरों के माध्यम से अन्य विशेष उपकरणों को शरीर के अंदर डालते हैं। दूसरे सर्जन ऑपरेशन करने के लिए “स्कोप” और अन्य टूल्स (Tools) का उपयोग करते हैं। अमेरिका में ज्यादातर पित्ताशय की थैली को निकालने के लिए लेप्रोस्कोपिक सर्जरी का उपयोग किया जाता है। कभी-कभी, हालांकि, खुली सर्जरी आवश्यक होती है क्योंकि पित्ताशय की थैली और पित्त नली बहुत संक्रमित या जख्मी होती हैं जिस्से सुरक्षित रूप से लेप्रोस्कोपिक सर्जरी करना अधिक कठिन परिस्थिति होती है।
  • ओपन सर्जरी – इसका मतलब है कि सर्जन सीधे सर्जरी करने के लिए आपके पेट में एक बड़ा चीरा लगाते हैं।

सबसे आम कारण पित्त के पथरी का इलाज है। पित्ताशय की थैली में छोटे पत्थर होते हैं जो पित्ताशय की थैली के अंदर ही बनते हैं। ये पत्थर उन नलिकाओं को अवरुद्ध कर सकते हैं जो पित्त बहाँती हैं। पथरी से सूजन, दर्द, और अन्य लक्षण हो सकते हैं।

यह लेख पित्ताशय की थैली को पित्त पथरी के इलाज के लिए हटाने के बारे में है। पित्ताशय की थैली के कैंसर के इलाज के लिए लोग पित्ताशय की थैली भी निकालकर हटा सकते हैं। लेकिन अगर सर्जरी का कारण कैंसर है, तो इसमें आमतौर पर सिर्फ पित्ताशय की थैली से अधिक अंग हटाने आवश्यक हो सकता है।

सर्जरी से पहले:

  • आपके डॉक्टर यह जांचने के लिए रक्त परीक्षण का आदेश देंगे कि आपका जिगर सामान्य रूप से काम कर रहा है या नहीं।
  • आपके डॉक्टर अल्ट्रासाउंड नामक एक इमेजिंग टेस्ट का आदेश देंगे, जो आपके शरीर के अंदर की तस्वीरों को बनाने के लिए ध्वनि तरंगों का उपयोग करता है। यह परीक्षण दिखाएगा कि क्या आपको पित्ताशय की पथरी है, और यदि पित्त नलिका फुली हुई है या अवरुद्ध है।
  • यदि पित्त नली कोई पत्थर से अवरुद्ध है, तो आपके डॉक्टर “ईआरसीपी” (ERCP) नामक एक प्रक्रिया का आदेश दे सकते हैं। ईआरसीपी का अर्थ है “एंडोस्कोपिक रेट्रोग्रेड कोलैजिओपेंक्रियाटोक्रोग्राफी” (Endoscopic Retrograde Cholangiopancreatography)। इस प्रक्रिया के दौरान, डॉक्टर आपके गले के नीचे एक “एंडोस्कोप” नामक एक ट्यूब स्लाइड (डालते हैं) करते हैं। एंडोस्कोप में एक प्रकाश वाला छोटा कैमरा होता है। डॉक्टर ट्यूब को आपके पेट और आपकी आंत में उस स्थान पर ले जाते हैं, जहां पित्त नली आंत में खाली हो जाती है। फिर डॉक्टर एक विशेष डाई इंजेक्ट करते हैं जो एक्स-रे पर नलिकाओं में दिखाई देता है — जो पित्ताशय की थैली, यकृत, और अग्न्याशय की ओर जाता है और एक्स-रे लेता है। इस तरह वह देख सकते हैं कि डाई कहां तक जाती है। कुछ मामलों में, डॉक्टर एंडोस्कोप का उपयोग कुछ पित्त पथरी को हटाने या डक्ट खोलने को या चौड़ा करने के लिए भी कर सकते हैं ताकि छोटे पत्थरों वहाँ से गुजर कर निकाल सकें।
  • आपका डॉक्टर आपको एक पतली ट्यूब के माध्यम से एंटीबायोटिक्स दे सकता है जो सर्जरी के दौरान और बाद में संक्रमण के जोखिम को कम करने के लिए एक “IV” नामक नस में जाती है।

यदि आपने पित्ताशय की पथरी का इलाज करने के लिए सर्जरी करवायी है, तो मुख्य लाभ यह है कि यह आपके लक्षणों को दूर कर देगा।

सर्जरी के जोखिम बहुत ही कम हैं, लेकिन निम्न हो सकते हैं:

  • पित्ताशय की थैली के पास अन्य पित्त नलिकाओं को नुकसान
  • पित्त लीक यानी के रिसाव होना 
  • खून बहते रहने
  • आंतों को नुकसान होना
  • संक्रमण होना
  • पित्त की पथरी को पित्त नली में “फँसा” हुआ या अटका हुआ छोड़ देना (जिसे सर्जरी के बाद ERCP के साथ निकालने की आवश्यकता होगी)

कुछ मामलों में, किसी भी व्यक्ति को पित्ताशय की थैली को हटाने के बाद भी पेट में थोड़ा दर्द होता रहेगा।

आपके आरोग्य की पुनःप्राप्ति थोड़ी अलग हो सकती है, कि आप लेप्रोस्कोपिक या ओपन सर्जरी पर निर्भर करते हैं।

  • यदि आपने लेप्रोस्कोपिक सर्जरी करवायी है, तो आप शायद उसी दिन अस्पताल से निकल पाएंगे, जिस दिन आपने सर्जरी करवायी होगी। लेकिन कुछ संभावना होती है कि आपको रात भर रहने की आवश्यकता होगी। पेट पर कट यानी के चिरे भले ही छोटे हों, लेकिन अंदर का ऑपरेशन वैसा ही था जैसे कि आपकी खुली सर्जरी में होता है। आपके डॉक्टर चाहते हैं कि आप कम से कम एक हफ्ते तक भारी आराम, खेल और तैराकी को टालें।
  • यदि आपने ओपन सर्जरी करवायी है, तो आप संभवतः 1 से 2 दिनों तक अस्पताल में रहेंगे। वहां रहते हुए, जितनी जल्दी हो सके चलना शुरू करने की पूरी कोशिश करें। इसके अलावा, साँस लेने के व्यायाम करें, जैसे भी आपके डॉक्टर सुझाते हैं। घर जाने के बाद, आपको अपनी अधिकांश सामान्य गतिविधियाँ करने में सक्षम होना चाहिए, लेकिन आपको कुछ हफ्तों के लिए भारी उठाने, खेल और तैराकी को टालना  चाहिए।

यदि आप रिकवरी (Recovery) के दौरान मादक दर्द की दवा ले रहे हैं, तो आपको कब्ज़ हो सकता है। इस समस्या से बचने के लिए स्टूल सॉफ्टनर (stool softener) लें।

यदि आप सर्जरी के बाद के हफ्तों में निम्नलिखित लक्षणों को मेह्सूस करते हैं, तो अपने डॉक्टर को तुरंत फोन करें:

  • बुखार या ठंड लगना
  • आपकी सर्जरी से कटौती के आसपास लालिमा या सूजन
  • उलटी अथवा मितली होना 
  • ऐंठन या अधिक गंभीर पेट दर्द होना
  • ब्लोटिंग (ऐसा महसूस करना कि आपका पेट गैस से भरा है)
  • पीली त्वचा या आँखें होना
  • मूत्र जो बहुत गहरे रंग का हो

सर्जरी पाचन को बहुत प्रभावित नहीं करती है। लेकिन सर्जरी कराने वाले आधे लोगों में बाद में हल्के लक्षण होते हैं, जिनमें ढीली मल त्याग, गैस या ब्लोटिंग शामिल हैं। ये लक्षण आमतौर पर अपने आप ठीक या बेहतर हो जाते हैं।

नियमित जाँच और परीक्षणों के बारे में अपने डॉक्टर के निर्देशों का पालन करना महत्वपूर्ण है। उपचार के दौरान किसी भी दुष्प्रभाव या समस्याओं के बारे में अपने डॉक्टर से बात करना भी महत्वपूर्ण है।

पित्ताशय की थैली के कैंसर का इलाज करने में कई विकल्प में से आपको चुनना पड़ेगा कि कौनसा  उपचार आपको करना है। हमेशा अपने डॉक्टरों को बताएं कि आप उपचार के बारे में कैसा महसूस करते हैं। किसी भी समय आपको उपचार का सुझाव दिया जाए, तभी अवश्य पूछें:

  • इस उपचार के क्या लाभ हैं? क्या इससे मुझे लंबे समय तक जीने में मदद करने की संभावना है? क्या यह लक्षणों को कम करेगा या रोकेगा?
  • इस उपचार के लिए डाउनसाइड (Downsides) दुर्लाभ क्या होते हैं?
  • क्या इस उपचार के अलावा कोई अन्य विकल्प हैं?
  • अगर मैंने यह इलाज नहीं करवाया तो क्या होगा?
Facebook
Twitter
LinkedIn
WhatsApp
Email
Skype
Telegram
Dr. Harsh J Shah Seraphinite AcceleratorOptimized by Seraphinite Accelerator
Turns on site high speed to be attractive for people and search engines.